झारखण्ड में आकाशीय बिजली गिरने से 11 लोगों की मौत, रखें इन बातों का ख्याल

11 people died due to lightning in Jharkhand, take care of these things

रांची : राज्य में मॉनसून के दस्तक देने के बाद कई इलाकों पर भारी बारिश हो रही है. वहीं भारी बारिश के बीच कई जगहों पर वज्रपात भी हो रहा है, जिससे आए दिन लोगों की मौत और जानमाल की क्षति की खबर भी सामने आ रही है. बीते दिन राज्य में वज्रपात से 11 लोगों की मौत हो गई है. वहीं आधा दर्जन से अधिक लोग इससे घायल हो गए.

वज्रपात का सबसे अधिक असर झारखंड की राजधानी रांची में देखने को मिला है. राजधानी रांची में वज्रपात से चार लोगों की मौत हो गई है. वहीं गढ़वा और हजारीबाग में दो, लोहरदगा, खरसांवा और गुमला में एक-एक व्यक्ति की मौत की खबर आयी है।

वज्रपात से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

बता दें, बारिश के दिनों में आकाशीय बिजली अक्सर जानलेवा साबित होती है. खेतों में काम करने वाले, पेड़ों के नीचे पनाह लेने वाले, तालाब में नहाते समय बिजली चमकने पर इसकी आगोश में आने की संभावना अधिक रहती है. ऐसे में मौसम विभाग के वैज्ञानिक अभिषेक आंनद के मुताबिक वज्रपात के दौरान चूंकि वृक्ष बिजली को आकर्षित करते हैं. ऐसे में बिजली चमकते समय पेड़ के नीचे न खड़े रहें, ऊंची इमारतों वाले क्षेत्र में आश्रय न लें लोगों के समूह में खड़े होने के बजाय अलग- अलग हो जाएं। किसी मकान में आश्रय लेना बेहतर है.

वहीं जब आप घर के अंदर हों तो बिजली से संचालित उपकरणों से दूर रहें, तार वाले टेलीफोन का उपयोग नहीं करना चाहिए. खिडकियां और दरवाजे बंद कर दें. साथ ही बरामदे और छत से दूर रहें. इसके अलावा ऐसी वस्तुएं जो बिजली के सुचालक हैं उनसे भी दूर रहना चाहिए.

अगले पांच दिनों तक कैसा रहेगा मौसम

रांची के मौसम में लगातार बदलाव देखने को मिल रहा है. मौसम विभाग के वैज्ञानिक अभिषेक आंनद के मुताबिक अगले पांच दिनों तक रांची में सुबह कड़ी धूप के बाद दोपहर में मौसम सुहाना हो जायेगा. वहीं राज्य के दूसरे हिस्से जैसे साहिबगंज, गुमला, पलामू सरायकेला खरसावां में आने वाले पांच दिनों में भारी बारिश की भी संभावनाएं हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.