तीन साल में 1,526 नक्सलियों ने टेके घुटने : DGP नीरज सिन्हा

Naxalites kneel in the state government, DGP Neeraj Sinha

रांची : झारखंड के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) नीरज सिन्हा ने सोमवार को कहा कि प्रदेश में पिछले तीन साल में नक्सल विरोधी अभियानों के दौरान 1,526 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है और विभिन्न मुठभेड़ों में कम से कम 51 नक्सली मारे गए हैं। डीजीपी ने 76वें स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराने के बाद रांची पुलिस मुख्यालय में पुलिसकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि झारखंड पुलिस नक्सलियों के विरुद्ध लगातार प्रभावी अभियान चला रही है, जिसके फलस्वरूप 2019 से 2022 के बीच कुल 1,526 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया है, इसके अलावा विभिन्न मुठभेड़ों में कुल 51 नक्सली मारे गए हैं।

वहीं गिरफ्तार नक्सलियों में एक पोलित ब्यूरो सदस्य, एक केंद्रीय समिति सदस्य, तीन विशेष क्षेत्र समिति सदस्य, एक क्षेत्रीय समिति सदस्य, 12 जोनल कमांडर, 30 सब-जोनल कमांडर और 61 एरिया कमांडर शामिल हैं।

भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद

नीरज सिन्हा ने कहा कि नक्सलियों के पास से भारी मात्रा में हथियार और गोला-बारूद और नक्सलियों द्वारा वसूले गए लगभग 159 लाख रुपये जब्त किए गए हैं। डीजीपी ने कहा ने बताया कि बरामद किए गए हथियारों और गोला-बारूद में 136 पुलिस हथियार, 40 नियमित हथियार, 590 देशी हथियार शामिल हैं जिनमें 74 पुलिस हथियार शामिल है। 37,541 कारतूस, 1,048 आईईडी और 9,616 डेटोनेटर हैं।

3000 से ज्यादा साइबर अपराधियों की भी हुई गिरफ़्तारी

साइबर अपराधियों ने 2019 से जून 2022 तक लोगों से 4.48 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी की और प्रदेश में कुल 3,001 साइबर अपराधियों को इस अवधि के दौरान गिरफ्तार किया गया। उन्होंने कहा कि उनके पास से बड़ी संख्या में मोबाइल फोन, सिम कार्ड, क्लोन मशीन, स्वाइप कार्ड, वाहन और नकदी बरामद की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.