झारखण्ड : शिक्षा मंत्री ने शिक्षकों से कहा कमर कस लो, 2 दिनों के भीतर आ रही है बड़ी सौगात

Education minister told teachers, gear up, big gift is coming within 2 days

रांची : झारखंड में जो लोग नौकरी की तैयारी में लगे हुए हैं उनके लिए शिक्षा मंत्री ने एक बड़ी खुशखबरी दी है, जो इसी महीने में ही लोगों के लिए आने वाली है. शिक्षा मंत्री के मुताबिक एक-दो दिन में शिक्षक नियुक्ति के लिए विज्ञापन जारी कर दिए जाएंगे.

झारखंड में शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो ने बड़ा बयान दिया है. शिक्षा मंत्री ने कहा 1 से 2 दिन के भीतर सरकार शिक्षकों की बहाली के लिए विज्ञापन निकालने जा रही है. जगरनाथ महतो के बयान के आधार पर अगर काम हुआ तो 22 सितंबर तक झारखंड में शिक्षकों की बंपर बहाली आने वाली है. शिक्षा मंत्री के मुताबिक पहले चरण में 25,996 शिक्षकों की बहाली होगी उसके बाद 24,000 शिक्षकों की अलग से नियुक्ति की प्रक्रिया को शुरू की जाएगी.

झारखंड में 50 हजार शिक्षकों की नियुक्ति का रास्ता साफ हो गया है. पिछले दिनों कैबिनेट की बैठक में प्राइमरी स्कूलों के इंटर प्रशिक्षित सहायक आचार्य के 20,825 पद और स्नातक प्रशिक्षित सहायक आचार्य के 29,175 पद की स्वीकृति दिए जाने के बाद शिक्षा विभाग जल्द ही नियुक्ति प्रक्रिया शुरू करने के लिए झारखंड कर्मचारी चयन आयोग को मांग भेजने की तैयारी कर रही है.

जल्द ही स्कूली शिक्षा व साक्षरता विभाग झारखंड कर्मचारी चयन आयोग को नियुक्ति का विज्ञापन निकालने के लिए मांग भेजेगा, जिसके बाद नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू होगी. जेएसएससी द्वारा आयोजित होने वाले शिक्षकों की नियुक्ति में प्रशिक्षित और टेट पास अभ्यर्थियों को मौका मिलेगा. वहीं इस परीक्षा में सफल होने के बाद ही अभ्यर्थियों का चयन सहायक आचार्य के रूप में किया जाएगा. नए नियमावली के अधीन झारखंड में सहायक आचार्यों की नियुक्ति होगी, जिसमें 20,825 प्लस टू प्रशिक्षित सहायक आचार्यों की नियुक्ति ₹25,500 के वेतन पर होगी वहीं 29,175 स्नातक प्रशिक्षित सहायक आचार्यों की नियुक्ति ₹28,200 के वेतन पर होगी.

झारखण्ड में करीब एक लाख हैं टेट पास अभ्यर्थी

राज्य में अब तक 2013 और 2016 में टेट परीक्षा हुए हैं, जिसमें करीब एक लाख टेट पास अभ्यर्थी नियुक्ति का इंतजार कर रहे हैं. 2016 के शिक्षक पात्रता परीक्षा में 53 हजार अभ्यर्थी सफल हुए थे लेकिन उन्हें आज तक नियुक्ति प्रक्रिया में शामिल होने का मौका नहीं मिल सका. वहीं 2013 टेट के करीब 48 हजार सफल अभ्यर्थी की नियुक्ति नहीं हो सकी है. इन अभ्यर्थियों में करीब दस हजार ऐसे अभ्यर्थी हैं जो निर्धारित उम्र सीमा को पार कर चूके हैं. ऐसे में टेट पास सर्टिफिकेट रहते हुए भी ऐसे अभ्यर्थियों को नियुक्ति प्रक्रिया में शामिल होना मुश्किल होगा. इन अभ्यर्थियों द्वारा सरकार से उम्र सीमा को भी बढ़ाने का आग्रह किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.