बोरवेल मशीन में गिरा हाइटेंशन तार, चालक-खलासी जिंदा जले!

Boring machine hit by high tension wire

कोटा : जिले में सोमवार को बोरिंग मशीन में करंट फैलने और आग लगने का मामला सामने आया है. घटना में
चालक और खलासी दोनों की मौत हो गई. मामला कोटा जिले के ग्रामीण इलाके सीमलिया थाने के पुराना पांचड़ा गांव का है. सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों के शवों को गड़ेपान के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा है. यहां पर दोनों के शवों का पोस्टमार्टम किया जाएगा.

सीमलिया थाना अधिकारी भंवर सिंह ने बताया कि मामला सुबह करीब 7:30 बजे का है. बोरिंग करने के लिए ये लोग गए थे. और सड़क किनारे थोड़ा नीचे उतर कर बोरिंग मशीन को खड़ा कर रहे थे. इसी दौरान मशीन के ऊपर गुजर रहे बिजली के तार से टच हो गई. इससे तार टूट गया और मशीन में करंट फैल गया. इस दौरान खलासी नीचे उतर रहा था, जैसे ही उसने फाटक को खोलने के लिए कुंदा पकड़ा इससे अर्थिंग मिलने लगा. साथ ही उसके शरीर में करंट फैल गया और वह झुलसने लगा. उसको बचाने के लिए चालक भी गया और वह भी झुलस गया. इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई. इस बोरिंग मशीन पर अन्य लोगों के भी सवार होने की बात सामने आ रही है, लेकिन वह पहले ही नीचे उतर गए थे.

60 फीसदी तक झुलस गया था शरीर- यह बोरिंग मशीन झालावाड़ निवासी उस्मान भाई की है. मृतको की पहचान झालावाड़ जिले के चौथ्याखेड़ी गांव निवासी कमलेश और चितौड़गढ़ जिले का निवासी देवेंद्र के रूप में हुई है. गड़ेपान पीएचसी इंचार्ज डॉ. जितेंद्र मीणा के मुताबिक दोनों मृतकों की उम्र 35 साल के आसपास है. दोनों के शरीर करंट से करीब 60 से 70 फीसदी झुलस गए थे. देवेंद्र के शरीर पर डीप बर्न हुआ है. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.