IIIT में मिला झारखंड की छात्रा को इतिहास का सबसे बड़ा पैकेज !

Jharkhand girl student got biggest package in history in IIIT

रांची न्यूज़ : ट्रिपल IT (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी) रांची की कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग की छात्रा चार्मी आशीष मेहता को 83.38 लाख रुपये का पैकेज मिला है. इन्हें आस्ट्रेलिया की एटलासियन कंपनी में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में यह पैकेज मिला है. ट्रिपल आइटी की स्थापना के बाद का यह सबसे बड़ा पैकेज है. इससे पूर्व कई छात्रों को 50 लाख का पैकेज मिला था. इतना ही नहीं, चार्मी को दो अन्य कंपनी के और ऑफर मिले हैं. इनमें इंफोड्स कंपनी की ओर से 14.5 लाख और प्रोड्यूक्टिव कंपनी की ओर से 25 लाख पैकेज का ऑफर दिया गया है.

निदेशक ने सफलता को सराहा

चार्मी की इस सफलता पर निदेशक प्रो विष्णु प्रिये बहुत खुश हैं. उन्होंने कहा कि महामारी के बाद वर्ष 2019-2023 बैच के विद्यार्थियों ने पूरे भारत में बहुराष्ट्रीय कंपनियों से कई प्लेसमेंट ऑफर पाने में कामयाबी हासिल की है. मौजूदा शैक्षणिक सत्र में 83 प्रतिशत से अधिक विद्यार्थियों का प्लेसमेंट हुआ है. प्रो विष्णुप्रिये ने कहा है कि 107 विद्यार्थियों में से 83 को सिंगल प्लेसमेंट ऑफर मिला है. इसमें कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में कुल 61 विद्यार्थियों में 50 और इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में कुल 46 विद्यार्थियों में 33 को सिंगल प्लेसमेंट ऑफर मिला है. इनका औसत पैकेज 16.73 लाख रुपये सालाना है. अब तक का कुल प्लेसमेंट और इंटरशिप ऑफर 92 है. संस्थान का ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेल विद्यार्थियों के बेहतर प्लेसमेंट के लिए कार्य कर रहा है. निदेशक ने कहा कि साल 2016 में स्थापित यह संस्थान केंद्र और राज्य सरकार के सहयोग से पीपीपी मोड पर चल रहा है.

IIIT के छात्र तुषार जैन ने जीता यूनेस्को इंडिया-अफ्रीका हैकाथॉन

ट्रिपल आइटी रांची के कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग अंतिम साल के छात्र तुषार जैन ने यूनेस्को इंडिया-अफ्रीका हैकाथॉन में जीत हासिल की है. तुषार व इनकी टीम को पुरस्कार स्वरूप 3 लाख रुपये मिले हैं. देश के उपराष्ट्रपति, केंद्रीय शिक्षा मंत्री और उत्तर प्रदेश के राज्यपाल ने पुरस्कार प्रदान किया. ट्रिपल आइटी के निदेशक प्रो विष्णु प्रिये ने बताया कि तुषार ने स्वास्थ्य और स्वच्छता उप-विषय के तहत 36 घंटे के कार्यक्रम में मधुमेह मेलेट्स की जटिलताओं की प्रारंभिक पहचान के लिए स्व-देखभाल और नियमित जांच के लिए एक ऐप विकसित किया. 36 घंटे की इंटेंस कोडिंग के बाद खिताब हासिल किया. ट्रिपल IT रांची में आयोजित आंतरिक हैकाथॉन और स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2022 फिनाले जीतने के बाद तुषार जैन को यूनेस्को इंडिया-अफ्रीका इंटरनेशनल हैकाथॉन में आमंत्रित किया गया. इसमें जीवन विषय के तहत 20 समस्याएं शामिल की गई. जिसमें 22 देशों के 600 से अधिक प्रतिभागी और 100 सलाहकार शामिल हुए.

Leave a Reply

Your email address will not be published.